बिलासपुर मस्तूरी

निजी तालाब में सरपंच और रोजगार सहायक द्वारा मनरेगा के तहत कार्य करवा रहा है।
रोजगार सहायक है सरपंच पुत्र, पिता पुत्र की जोड़ी करवा रहे हैं निजी तालाब में पचरी निर्माण के साथ पिचिंग कार्य

Summary

Hindtimes  क्षेत्रीय जनपद सदस्य  श्रीमती गौरी अभिलेश यादव  ने जनपद सीईओ से की शिकायत।जनपद सीईओ ने शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए निर्माण कार्य रोकने का दिया आदेशगलत जनकारी दे  इंजीनियर अपने अधिकारों को कर रहे हैं गुमराह बिलासपुर जिले के  […]

Hindtimes  क्षेत्रीय जनपद सदस्य  श्रीमती गौरी अभिलेश यादव  ने जनपद सीईओ से की शिकायत।जनपद सीईओ ने शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए निर्माण कार्य रोकने का दिया आदेश
गलत जनकारी दे  इंजीनियर अपने अधिकारों को कर रहे हैं गुमराह

बिलासपुर जिले के  सीपत मस्तूरी मुख्यालय के ग्राम  पंचायत कर्रा (हिण्डाडीह) में मनरेगा के तहत सरपंच द्वारा बिना तकनिकी स्वीकृति के निजी तालाब में रिटर्निंग वाल का कार्य कराया जा रहा है। जो कि गुणवत्ता हीन एवं मनरेगा उक्त कार्य में फर्जी मास्टररोल भरा जा रहा है, वहीं दूसरी जमीन का खसरा नं. फर्जी तरीके से उपयोग किया जा रहा है। आपको बता दें  कि सरपंच सकुन बाई बिझवार द्वारा अपने पुत्र रोजगार सहायक प्रमोद बिझवार के माध्यम से पूरे परिवार व अपने करीबी व्यक्तियों का बिना काम किये मास्टर रोल में नाम दर्ज कर फर्जीवाडा किया जा रहा है ।

निजी तालाब में रिटर्निग वाल का कार्य शासन के राशि का उपयोग किया जा रहा है। उक्त मामले को क्षेत्रीय जनपद सदस्य द्वारा लिखित में शिकायत कर जनपद सीईओ व मनरेगा के कार्यक्रम अधिकारी को अवगत कराया है। और  जनपद स्तर से टीम गठन कर शिकायतकर्ता के समक्ष जांच करने की बात कही है। और दोषी पाये जाने पर उचित कार्यवाही करने को कही गई है।

उक्त मामले में विभागीय मनरेगा के इंजीनियर का श्रेय भरपूर दिखाई  दे रहा है। इंजीनियर अपने अधिकारों को अंधेरे में रख कर रहे बदनाम।