बिलासपुर

परम पूज्य गुरु घासीदास बाबा की अपमान बर्दाश्त नहीं होगा ।भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के तत्वधान में कलेक्टर को दिया गया विज्ञप्ति ,

Summary

Hind times:- बिलासपुर :- जब से छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण हुआ है। तब से राज्य सरकार अलंकार पुरस्कार आदिम जाति कल्याण विभाग के द्वारा संत शिरोमणि गुरु घासीदास बाबा जी के नाम पर सम्मान स्वरूप अलंकार पुरस्कार सामाजिक चेतना एवं […]

Hind times:- बिलासपुर :- जब से छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण हुआ है। तब से राज्य सरकार अलंकार पुरस्कार आदिम जाति कल्याण विभाग के द्वारा संत शिरोमणि गुरु घासीदास बाबा जी के नाम पर सम्मान स्वरूप अलंकार पुरस्कार सामाजिक चेतना एवं सामाजिक न्याय के लिए दिया जाता रहा है। गुरु घासीदास बाबा जी के सत्य के रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करने वाला सम्मान था

जिसको वर्तमान राज्य में कांग्रेस की सरकार के द्वारा विलोपित किया गया है अनुसूचित जाति वर्ग परम पूज्य गुरु घासीदास बाबा जी का यह अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा 5 नवंबर तक कांग्रेस की सरकार अलंकार पुरस्कार उनके नाम से देने की घोषणा नहीं करेगी तो आने वाले समय पर धरना प्रदर्शन एवं रोड की लड़ाई  साथ ही साथ विधानसभा तक की लड़ाई लड़ी जाएगी। प्रदेश के मुखिया जो की जिम्मेदार पद पर बैठे हुए हैं उन्हीं के द्वारा बार-बार अनुसूचित जाति के लोगों को अपमान करने का काम किया जाता है 4 मार्च 2019 को भी कोरिया के बैकुंठपुर में भी सभा को संबोधित करते हुए भूपेश बघेल ने असंवैधानिक शब्द जिसको विलोपित किया गया है का उपयोग किया था जो शब्द  अनुसूचित जाति को अपमानित और जिल्लत लगती है

वही शब्दों का इस्तेमाल वर्तमान  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बार-बार कर रहे हैं ।आज भी परम पूज्य गुरु घासीदास बाबा जी के अलंकार पुरस्कार की घोषणा ना करके कांग्रेस की सरकार ने अपना असली रूप दिखाया है। वर्तमान में जो छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है यह अनुसूचित जाति वर्ग के लिए हमेशा दोहरा चाल चरित्र रखती है, और सदैव अपमान करने का काम करते हैं। छत्तीसगढ़ में लाखों की संख्या में परम पूज्य गुरु घासीदास बाबा जी के अनुयाई रहते हैं।  जो कि उनके आराध्य एवं प्रतिष्ठा के लिए जाने जाते हैं आज बिलासपुर के कलेक्टर साहब से मिलकर भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के तत्वधान में बड़ी संख्या में कलेक्ट्रेट पहुंचकर अपना विरोध जताया एवं विज्ञप्ति देकर वर्तमान सरकार को जगाने का काम किया है।