विशाल यादव ने माइनस 16 डिग्री में 12500 फीट ऊंची चोटी केदार कांठा पर 280 फीट लंबा तिरंगा लाराहरा कर बनाया विश्व रिकॉर्ड

जांजगीर चाम्पा

हरिओम विमल कांत की रिपोर्ट

Hindtimesजिला जांजगीर चांपा के विकासखंड पामगढ़ के ग्राम खोखरी के रहने वाले विशाल यादव पिता नानक चंद यादव ने माइनस 16 डिग्री तापमान में 12500 फीट की ऊंचाई पर सफलतापूर्वक चढ़ाई की उनकी टीम ने वहां 280 फीट का लंबा तिरंगा फहराया तिरंगा 2 जनवरी की सुबह 7:10बजे फहराया साथ ही उनके टीम ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दीया

इंडियन एडवेंचर फाउंडेशन के तत्वाधान में दूसरी बार नेशनल केदार कांठा विंटर ट्रैक का आयोजन किया गया था यह उत्तराखंड के देहरादून जिले में 200 किलोमीटर दूर सांकरी में स्थित है
जिसमें 8 राज्य के 26 प्रतिभागी शामिल हुए थे जिसमें जांजगीर चांपा के विकासखंड पामगढ़ के ग्राम खोखरी के विशाल यादव भी शामिल थे
राजनांदगांव के पहले पर्वतारोही श्री रोहित झा के नेतृत्व में किया
पर्वतारोही रोहित झा ने बताया कि ट्रेक बर्फीले रास्तों से गिरा हुआ था अत्यधिक कठिनाइयों के सामने टीम ने हार नहीं मानी
इंडियन एडवेंचर के अध्यक्ष इफ्राइम अहमद और सभी ने इस उपलब्धि पर पूरी टीम को बधाई दी
विशाल यादव का सपना एशिया के सबसे ऊंची चोटी के स्टॉक कांगड़ी को फतह करना है
केदार कांठा के चोटी पर पहुंचने के बाद भारत माता की जय वंदे मातरम छत्तीसगढ़ महतारी की जय छत्तीसगढ़िया सबले बढ़िया के जयकारे लगाए
विशाल यादव ने बताया कि केदार कांठा ट्रैक का सफर बेहद ही कठिन और चुनौतीपूर्ण था अंधेरे में चलना साथ ही बर्फ में जूतों में फिसलन हो रही थी उन्होंने रात 2:00 बजे से ट्रेकिंग शुरू की और सुबह सूर्योदय के समय केदार कांठा छोटी फतेह किया
12500 फीट की ऊंचाई पर 280 फीट का तिरंगा लहराना किसी सपने से कम नहीं था
यह गर्व और गौरव का पल रहा
विशाल यादव की सफलता पर पिता श्री नानक चंद यादव व माता श्रीमती रुखमणी देवी यादव ने कहा कि हमारे बेटे ने जांजगीर जिला सहित ग्राम खोखरी का नाम रोशन किया बेटे पर हमें गर्व है
हौसला बुलंद हो तो बड़े से भी बड़े लक्ष्य को किया जा सकता है हासिल।