प्राथमिक शाला हिर्री के कामचोर और लापरवाह शिक्षक खबर प्रकाशित होने के बाद आए हरकत मे

मस्तूरी

#हरिओम श्रीवास के साथ विमल कांत की रिपोर्ट

Hindtimesमस्तूरी। मस्तूरी मुख्यालय के प्राथमिक शाला हिर्री में गंदगी युक्त जगह पर छात्र छात्राओं को मध्यान भोजन करवाने वाले स्कूल के बारे में प्राथमिकता के साथ खबर उठाई गई थी जिसको विकास खंड शिक्षा अधिकारी ने संज्ञान में लेते हुए जवाबदार शिक्षको पर लगाम भी कसा था।

जिसका परिणाम स्वरूप नन्हे बच्चों को दैनिक दिनचर्या में क्या-क्या करना चाहिए उसकी सीख दी जा रही है साथ ही मध्यान भोजन करवाते समय अनुशासन पूर्वक बैठने एवं भोजन ग्रहण करते समय भोजन मंत्र करने की ज्ञान अब शिक्षकों के द्वारा बच्चों को दिया जा रहा है।इस विषय में जानकारी देते हुए विकास खंड शिक्षा अधिकारी अश्वनी भारद्वाज ने बताया कि खबर प्रकाशित होने के बाद जनपद प्राथमिक शाला हिर्री के शिक्षकों को ठोस एवं उचित करवाई करने की हिदायत देते हुए बच्चों को अनुशासन पूर्वक कार्य करवाने और दिनचर्या में रखरखाव हेतु बच्चों को शिक्षा देने के बात कही गई है।

बच्चों के पलकों में दिखी नाराजगी कहां जवाबदार शिक्षकों पर होनी चाहिए करवाई

बच्चों को गंदगी युक्त जगह पर मध्यान भोजन करवाना दैनिक दिनचर्या के बारे में सामान्य ज्ञान जैसी शिक्षाएं शिक्षकों के द्वारा ना सिखाना इस विषय पर ग्राम पंचायत हिर्री के उन पालको का कहना है कि शिक्षकों के भरोसे हम बच्चों को छोड़ देते हैं लेकिन शिक्षक अपनी जवाबदारी से आए दिन भागते ही रहते हैं नन्हे बच्चों को उसकी स्कूली जीवन ही मुख्य आधार होता है अगर बच्चों को स्कूली दिनों में दैनिक दिनचर्या की ज्ञान ना हो तो भविष्य में कई सारी समस्याएं बच्चों के दिनचर्या में आती है ऐसे में जवाबदार शिक्षकों पर बिल्कुल ही उचित कार्रवाई करते हुए इन पर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए।