अवैध प्लाटिंग का गोरखधंधा शिकायत के बाद भी नहीं हो रहा कार्यवाही

मस्तूरी

Hindtimesमस्तूरी । मस्तूरी मुख्यालय में इन दिनों अवैध प्लाटिंग का गोरख धंधा बड़ी जोरों से चल रही है कितने शिकायत होने के बावजूद भी आखिरकार राजस्व विभाग मस्तूरी का जमीन दलालों से ऐसा कौन से रिश्तेदारी है समझ से परे हैं। विगत पिछले आठ/छै माह से मस्तूरी एसडीएम कार्यालय मेंअवैध प्लाटिंग को लेकर ना जाने कितनी सारी शिकायतें हो गई है

लेकिन मोटी कमीशन खोरी की नशा है या फिर जमीन दलालों से ससुराती रिश्तेदारी है जिसके कारण जमिन दलालों पर नियमानुसार कारवाही नहीं हो पा रही है। करवाही के नाम पर सिर्फ कुछ पैसों का जुर्माना लगाकर पर्दे के पीछे उस कार्य को और तेजी से करने के लिए खुली छूट दी जा रही है। ऐसे ही एक ताजा मामला सामने आया है। ग्राम पंचायत मोहतरा का जहां पर बड़े पैमाने पर जगह जगह जमीन दलालों के द्वारा अवैध प्लाटिंग किया जा रहा है। जिसको ग्राम पंचायत सरपंच ने मस्तूरी एसडीएम कार्यालय में तहसीलदार के नाम लिखित आवेदन देकर अवैध प्लाटिंग करने वालों के ऊपर करवाही करने के लिए शिकायत किए हैं लेकिन विगत 6 माह हो गया ना हीं अवैध प्लाटिंग करने वालों पर किसी भी प्रकार की कारवाही की गई है और ना ही अवैध प्लाटिंग हो रही उस जगह पर रोक लगी है बल्कि अवैध प्लाटिंग करने वालों की कार्य में और तेजी आ गई है। जिसके कारण ग्राम पंचायत के जनप्रतिनिधियों ने अवैध प्लाटिंग करने वालों के खिलाफ और उन्हें श्रेय देने वाले अधिकारियों के खिलाफ बिलासपुर कलेक्ट्रेट में धरना देने, और जमीन दलालों को श्रेय देने वाले अधिकारियों को तत्काल हटाने के लिए तैयारी में जुटे हुए हैं। जिसका फल स्वरुप भी तहसीलदार को हटाया जा चुका है। अभी कुछ दिन पुर्व नऐ तहसीलदार के आने से लोगों के मन में अवैध प्लाटिंग करने वाले जमीन दलालों के उपर करवाही होने की उम्मीद जगी हुई है । अब ग्रामवासी और जनप्रतिनिधियों का भरोसा नए तहसीलदार के ऊपर टिकी हुई है।