बिलासपुर मस्तूरी

लॉक डाउन में आखिर कौन करेगा अवैध शराब बिक्री करने वालो पर कार्यवाही जब थाने से महज दो से तीन किलोमीटर की दूरी पर बिक रहा हो शराब किसकी संरक्षण में बिक रहा है कच्ची शराब

Summary

Hindtimes :- बिलासपुर क्षेत्र में बेधड़क बिक रहे हैं अवैध शराब ,जवाबदार थाना प्रभारी कुंभकर्णी नींद में सोये।थाना क्षेत्र से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर भट्टी जैसे नजारा रोजाना देखने को मिलता है। पुलिस अवैध शराब बेच रहे लोगों […]

Hindtimes :- बिलासपुर क्षेत्र में बेधड़क बिक रहे हैं अवैध शराब ,जवाबदार थाना प्रभारी कुंभकर्णी नींद में सोये।थाना क्षेत्र से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर भट्टी जैसे नजारा रोजाना देखने को मिलता है।


पुलिस अवैध शराब बेच रहे लोगों को रोज पकड़ कर  लाती है पर करवाही एक भी नहीं होती।
मस्तूरी पचपेड़ी क्षेत्र के दर्जनभर से ऊपर गांव में खुलेआम बिक रही है कच्ची शराब।


सिरगिट्टी थाना क्षेत्र  के ग्राम कोरमी बसिया में जो कल घटना हुआ जिसके करण लगभग 8 लोग मौत की गहरी नींद में सो गया , पचपेड़ी थाना क्षेत्र मैं भी कही भगवान न करे वैसी घटना न घट जाए
अवैध शराब बिक्री करने वालो के ऊपर कड़ी कार्यवाही होना चाहिए साथ ही जो भी अधिकारी इन लोगो का साथ दे रहे हैं उनको भी हटा दिया जाना चाहिए ताकि क्षेत्र अवैध शराब बिक्री रुक सके और लोगो की जान बचा ले प्रशासन


  कच्ची शराब  बेचने वाले अल्कोहल की मात्रा कम करके बेचते हैं उसी के कारण पीने वालो को नशा कम करता है जिसके कारण शराबी दूसरा रास्ता अपनाते हैं जिसके कारण मौत के मुँह में चले जा रहे हैं शराबी आबकारी विभाग गहरी नींद में सोए हैं पुलिस विभाग आबकारी विभाग का मामला बताकर कार्यवाही करने से अनदेखा कर देते हैं जहाँ उनकी सेटिंग हो


मस्तूरी  कोविड-19 टीन के मद्देनजर छत्तीसगढ़ में जहां एक और संपूर्ण लॉक डाउन होने से जगह-जगह की शराब की पूर्ण रूप से बंद है तो वही मस्तूरी क्षेत्र के पचपेड़ी थाना अंतर्गत दर्जनों भर से अधिक ग्राम पंचायतों में जमकर मधुशाला छलकाए जा रही है। शाम को जब पचपेड़ी क्षेत्र के भ्रमण करने निकलोगे तो ऐसे ऐसे ग्राम पंचायत मिलेंगे जहां शासकीय शराब दुकान जैसे एकल खिड़की लगाकर बेधड़क और धड़ल्ले से कच्ची महुआ शराब परोसे जा रहे हैं। ऐसा नहीं है कि इनके बारे में क्षेत्रीय थाना प्रभारियों को सूचना ना मिला हो। लेकिन हम अपने पाठकों को यह बता दे कि शराब के नाम से पचपेड़ी क्षेत्र में पुलिस से ज्यादा शराबियों का बोलबाला चलता है। शराब बेचने वालों के सामने नतमस्तक है थाना प्रभारी प्रवीण राजपूत पुलिस पेट्रोलिंग में भी जाते हैं तो ऐसी स्थिति देखकर कुछ नहीं कर सकते क्योंकि लॉकडाउन को मध्यनजर देखते हुए अवैध शराब बिक्री करने वालों से सप्ताहिक कमीशन मोटी रकम में जो मिल रहा है। अगर कोई ग्रामवासी मुखबिरी या फिर 112 के माध्यम से फोन करके सूचना भी देते हैं मौके पर ना तो अबकारी विभाग पहुंच पा रहे हैं और न ही पुलिस विभाग पहुंचते हैं। पुलिस पहुंचने से पहले ही शराब बिक्री कर रहे कोचियों  को अवगत करा दिया जाता है जिसके कारण पुलिस आने से पहले ही शराब बिक्री कर रहे हो चुके दुकानदारी बंद हो जाते हैं और पुलिस के जाते ही फिर से वही माहौल देखने को मिलता है। हम आपको बता दे की पचपेड़ी थाना क्षेत्र में सुकूलकारी, बेल्हा, जोंधरा, भीलौनी,बेलपान खपरी ,भटचौरा,  भगवानपाली हरदी, कोकड़ी,मनवा,सोन,सोनसरी, लोहर्सि, सांबरिया डेरा,सोडाडीह, जैसे दर्जनों ग्राम पंचायतों में खुलेआम अवैध शराब बिक्री हो रही। पुलिस रोजाना दो-चार लोगों को अवैध शराब बिक्री करके पकड़कर जरूर लेकर आ रहे हैं लेकिन करवाही एक पर भी नहीं हो रहा है यह सोचनीय विषय है। आखिर क्षेत्र की जनता किस से गुहार लगाऐ यह समझ से परे है।

वहीं इस मामले में पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल का कहना है कि पुलिस विभाग के द्वारा अवैध शराब बिक्री वालों पर कार्रवाई की जा रही है और जहां जहां शिकायत मिल रही है वहां भी उचित करवाई किया जाएगा।