बिलासपुर मस्तूरी

सचिव निलंबित फिर भी पंचायत खाता से निकल गया दस लाख रुपए आखिर कैसे निकला इतनी बड़ी राशि

Summary

Hindtimes बिलासपुर जिले के मस्तूरी जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत गोड़ाडीह में पूर्व सरपंच और सचिव की मिलीभगत के कारण लाखों रुपए का हेरा फेरी होने की शिकायत ग्राम पंचायत के लोगों ने की है। मिली जानकारी के अनुसार आपको बताते […]

Hindtimes बिलासपुर जिले के मस्तूरी जनपद अंतर्गत ग्राम पंचायत गोड़ाडीह में पूर्व सरपंच और सचिव की मिलीभगत के कारण लाखों रुपए का हेरा फेरी होने की शिकायत ग्राम पंचायत के लोगों ने की है। मिली जानकारी के अनुसार आपको बताते चलें कि ग्राम पंचायत गोडाडीह के पूर्व सचिव मथुरा प्रसाद मार्शल ग्राम पंचायत गोड़ाडीह के निलंबन अवधि के दौरान पूर्व सरपंच ललिता दिनकर द्वारा राशि आहरण किये जाने के विरूध्द शिकायत ग्राम पंचायत के लोगों ने की है।


ग्राम पंचायत गोड़ाडीह में वर्ष 2019-2020 में मथुरा प्रसाद मार्शल सचिव को दिनांक 29/10/2019 को निलंबित हुआ था और निलंबन के पश्चात भी पूर्व सरपंच ललिता दिनकर ने सचिव का फार्जी हस्ताक्षर कर लगभग 10.00000रू. (दस लाख रूपये) से अधिक राशि आहरण किया गया हैं जो कि नियम के विरूध्द हैं। और शासन प्रशासन से धोखाधड़ी का मामला बनता है। ऐसे फर्जी और धोखाधड़ी करने वाले पूर्व सरपंच व सचिव के ऊपर उचित करवाई करने की मांग को लेकर ग्राम पंचायत गोड़ाडीह के लोगों ने जनपद पंचायत सीईओ को लिखित में शिकायत कर उचित जांच करने की मांग की है।