बिलासपुर मस्तूरी

लक्ष्मण मस्तुरिया के जन्मभूमी क्षेत्र में छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना का हुआ संगठन विस्तार , मस्तुरिया के सपनों को पुरा करने का युवाओं ने लिया संकल्प।

Summary

Hindtimes:-बिलासपुर मस्तूरी छत्तीसगढ़िया के आर्थिक, राजनैतिक, सांस्कृतिक हक के लिए लड़ रहे छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना संगठन का आज मस्तूरी ब्लाॅक स्तरीय बैठक ग्राम वेद परसदा में हुआ जिससे क्षेत्र के चकरबेढ़ा, ओखर, मस्तुरी किरारी, गतौरा इत्यादी ग्रामों से दर्जनों सेनानी […]

Hindtimes:-बिलासपुर मस्तूरी छत्तीसगढ़िया के आर्थिक, राजनैतिक, सांस्कृतिक हक के लिए लड़ रहे छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना संगठन का आज मस्तूरी ब्लाॅक स्तरीय बैठक ग्राम वेद परसदा में हुआ जिससे क्षेत्र के चकरबेढ़ा, ओखर, मस्तुरी किरारी, गतौरा इत्यादी ग्रामों से दर्जनों सेनानी सम्मिलित हुये। बैठक में संगठन विस्तार के साथ छत्तीसगढ़िया समाज से जुड़े कई मसलो पर चर्चा हुई। जिला पदाधिकारियों नें बैठक को संबोधित किया जिसमें जिला अध्यक्ष कृष्णा कौशिक ने कहा कि छत्तीसगढ़ियों के दशा और पीड़ा को अपने रचना में पिरोने वाले लक्ष्मन मस्तुरिया ने जो शोषण एवं शराबमुक्त खुशहाल छत्तीसगढ़ का सपना देखा था वह अभी तक अधुरा है लेकिन हम सबको मिलकर उसे पुरा करने का समय आ गया है ।साथ ही उन्होने छत्तीसगढ़िया युवाओं को व्यापार के क्षेत्र में भी आगे आने का आह्वान किया।
वही जिला संयोजक ठाकुर शैलु  छत्तीसगढ़िया  ने बताया कि मस्तुरी ब्लाॅक के शेष बचे पदों पर प्रदीप साहु को कोषाध्यक्ष एवं आकाश बंजारे को सह-कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई । साथ ही लक्ष्मण मस्तुरिया का आदमकद प्रतिमा का स्थापना संगठन द्वारा सर्व छत्तीसगढ़िया समाज के सहयोग से करने की बात कही । जिला अध्यक्ष कृष्णा छत्तीसगढीया,ने कहा कि गाँव में कोई भी बाहिरी को घुसने न दे न हि। बाहिरी व्यक्ति से समान न खरिदेइस अवसर पर जयकिसन साहु , सौरभ सिंह , राजकुमार , भरत कैवर्त, नारद कैवर्य, गोलु देवांगन , बाबी पात्रे, अमरनाथ, लखन साहु, दामोदर समेत दर्जनों छ क्रां से सदस्य उपस्थित रहें।