मार्मिक चेतना वेलफेयर सोसाइटी द्वारा गर्म कपड़े प्रदान किए गए एवं लावारिस बच्चे को चाइल्ड लाइन को सौंपा गया

बिलासपुर

Hindtimes :- बिलासपुर – मार्मिक चेतना वेलफेयर सोसाइटी बिलासपुर द्वारा नए साल के उपलक्ष में फुटपाथ में सोने वाले गरीबों को गर्म गद्दे बांटा गया, बांटते वक्त फुटपाथ पर एक 14 साल बच्चे पर नजर पड़ी, जिससे बात करने पर यह पता चला कि बच्चे को उसके मां-बाप द्वारा मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया गया है, और वहां 8 दिन से फुटपाथ पर रहकर और भीख मांग कर जीवन यापन कर रहा है, जिससे टीम की अध्यक्षा ने बात कर एवं उचित परामर्श कर उसे चाइल्ड लाइन को सौंपा गया,

जो पढ़ने के लिए इच्छुक एवं सुरक्षित स्थान में  रखना अति आवश्यक था,  क्योंकि अगर वह गिरोह एवं असामाजिक लोगों के संपर्क में आ जाता तो उसका पूरा भविष्य अंधकार मय हो जाता,  मार्मिक चेतना वेलफेयर सोसाइटी के टीम द्वारा अभी तक 5 बच्चों को रेस्क्यू कर सुरक्षित स्थान पहुंचाया गया है, जिसे उनकी शैक्षिक गतिविधी मैं कोई रुकावट ना आए एवं उनका भविष्य उज्जवल हो,

मार्मिक चेतना वेलफेयर सोसाइटी प्रारंभ से ही बच्चे महिलाओं, बुजुर्गों, एवं विकलांगो पर कार्य कर रही है साथ ही जो भिक्षुक है उन्हें आत्मनिर्भर बनाने एवं भी के बदले कुछ कार्य करने के लिए प्रेरित एवं उन्हें सहयोग प्रदान कर रही है, इस कार्य में अंकिता पाण्डेय शुक्ला, अनुभव शुक्ला, नीरज गेमनानी, नेहा तिवारी रूपाली पांडेय, शुभम पांडेय सभी सदस्यों का सहयोग प्राप्त रहा।