बिलासपुर मस्तूरी

ऑपरेशन मुस्कान के तहत सकुशल तीन नाबालिक बच्चीयो को मस्तूरी पुलिस ने एक सप्ताह के भीतर की बरामद पुलिस की इस नेक कार्य हर कोई कर रहा सराहना

Summary

Hind times:- बिलासपुर मस्तूरी तीन बालिकाओं को सकुशल बरामद किया पूर्व में जुलाई महीने में ऑपरेशन मुस्कान के तहत कुल 11 नाबालिक बच्चों को बरामद किया गया था इसी तरह नवम्बर माह में में 1 सप्ताह के भीतर 3 अपहृत बालिकाओं […]

Hind times:- बिलासपुर मस्तूरी तीन बालिकाओं को सकुशल बरामद किया पूर्व में जुलाई महीने में ऑपरेशन मुस्कान के तहत कुल 11 नाबालिक बच्चों को बरामद किया गया था इसी तरह नवम्बर माह में में 1 सप्ताह के भीतर 3 अपहृत बालिकाओं को बरामद किया गया
2 प्रकरण 2020 के तथा एक प्रकरण 2019 में पंजीबद्ध किया गया था आगे भी बालिकाओं तथा महिला सम्बन्धी अपराधों के साथ अन्य अपराधों में ततपरता से कार्यवाही की जाएगी बिलासपुर पुलिस अधीक्षक  प्रशांत अग्रवाल के द्वारा जिले के  थाना प्रभारियों को अपहृत बालक बालिकाओं को ढूढ़कर उनके परिजनों को सुपुर्द करने का निर्देश दिया गया था। इसी कड़ी में मस्तूरी पुलिस ने अभियान के तहत नवंबर महीने में एक सप्ताह के भीतर 3 अपहृत बालिकाओं को सकुशल ढूंढ कर उनके परिजनों के सुपुर्द किया मस्तूरी  थाना क्षेत्र के ग्राम पेंड्री से दो बालिका तथा ग्राम भदौरा से एक बालिका गुम हुए थे जिसमें परिजनों के द्वारा मस्तूरी थाने में अपराध पंजीबद्ध कराया गया था इन प्रकरणों में *अपराध क्रमांक 472 / 19,    451 / 20,     486 / 20 धारा 363 भारतीय दंड संहिता पंजीबद्ध किया गया था* । मामले की विवेचना की जा रही थी। इन प्रकरणों में नाबालिग बालिकाओं को ढूंढने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बिलासपुर(ग्रामीण) संजय ध्रुव तथा नगर पुलिस अधीक्षक श्रीमती निमिषा पांडेय द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश प्राप्त कर मस्तूरी पुलिस टीम ने बालिकाओं के मिलने के संभावित जगह पर सर्च अभियान चलाया साथ ही मुखबिर भी सक्रिय किया गया। इस दौरान तीनों बालिकाओं के संदर्भ में सूचना मिली जिन्हें क्रमशः कागजनगर आंध्र प्रदेश, बलौदा बाजार, तथा जांजगीर चांपा से सकुशल ढूंढ निकाला गया तथा उन्हें उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया।
      इस कार्यवाही में थाना प्रभारी मस्तूरी फैजुल शाह के नेतृत्व में सहायक उप निरीक्षक प्रदीप यादव,भुरेदास,प्रधान आरक्षक देवमुन पुहुप आरक्षक प्रेमशंकर बंजारे,बसन्त मानिकपुरी, अफाक खान, मुकेश राय तथा कृष्ण कुमार महिलांगे की सराहनीय भूमिका रही।